• Tue. May 30th, 2023

Independence

  • Home
  • तानाशाह का बिन्दुवार चरित्र (!) चित्रण

तानाशाह का बिन्दुवार चरित्र (!) चित्रण

1. तानाशाह के पास न तो सेंस होता है और न ह्यूमर 2. तानाशाह व्यंग्य और उपहास में फ़र्क़ नहीं कर पाता 3. तानाशाह कायर, बेवकूफ़ और बेशरम होता है…

आप जानते हैं… मानते नहीं !

नीचतम से भी इतिहास में शुमारी हो सकती हैकिसी मूर्खतम को ही ऐसी बीमारी हो सकती है। हँसी आती है आज जो उनकी लानतें देख करतय है यही हालत कल…

मत आना बापू!

बापू!तुम मत आनाफिर सेये देखने किइतनी कुर्बानियों से मिलीआजादी काक्या हाल कर दिया हैहमनेसत्तर सालों मेंअपने ही लोगों कीदिमागी गुलामी के जरियेकिस तरहसत्ता के उपभोग कीनयी इबारतलिखी हैमाना किहम नतमस्तक…